आलूबुखारा -गुणों और सेहत से भरपूर फल

आलूबुखारा गर्मियों में होने वाला एक फल है। यह लीची जैसा या लीची से कुछ बड़ा होता है। आलूबुखारा फल का स्वाद खट्टा-मीठा होता है, लेकिन आलूबुखारा में मौजूद पोषक तत्व शरीर के लिए बहुत फायदेमंद होते हैं। आलूबुखारा को आप कच्चा, पका और ताजा या सुखा कर भी खा सकते हैं। मतलब इस फल को कैसे भी खाएं यह आपको फायदा ही पहुंचाएगा।  जबकि कई सारे फलों को आप कच्चे नहीं खा सकते हैं।

आलूबुखारा के फायदे

त्वचा के लिए

आलूबुखारा में भरपूर मात्रा में एंटीऑक्सीडेंट्स पाए जाते हैं। आलूबुखारा खट्टा और मीठा होने के कारण इसमें विटामिन ‘सी’ भी प्रचुर मात्रा में पाया जाता है, जो त्वचा और आंखों को स्वस्थ रखने में सहायक है। इसके साथ ही यह शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता भी बढ़ाता है। आलूबुखारा का फेस पैक बनाकर आप इसको चेहरे पर भी लगा सकते हैं। इससे आपकी त्वचा मुलायम होगी और त्वचा में निखार आएगा। इसके लिए आलूबुखारा में एक चम्मच बेसन और एक चम्मच शहद मिलाकर इसका पेस्ट बनाएं और इसे अपनी त्वचा पर लगाएं। फिर देखिये आपकी त्वचा कैसे दमकने लगेगा।

कब्ज

आलूबुखारा फल फाइबर से भरपूर होता है। अगर आपको कब्ज की समस्या है तो, आलूबुखारा का सेवन करें, यह आपके कब्ज की समस्या दूर कर देगा। आलू बुखार में मौजूद पोषक तत्व चाहे वह पुराना कब्ज हो।  आपके कब्ज की समस्या को चुटकियों में दूर कर देगा।ये फल आपके पाचन तंत्र और उससे जुड़ी समस्याओं को भी दूर करने में मददगार होता है। यदि आपको कब्ज के साथ-साथ अपच की समस्या भी है तो आलूबुखारे खाएं। इसके सेवन से आपका जठराग्नि और पाचन तंत्र भी सही काम करने लगेगा।

हड्डियों को मजबूती प्रदान करता है

आलूबुखारा में मौजूद विटामिन यदि आपके हड्डी में किसी भी प्रकार की समस्या है तो उसे दूर कर हड्डियों को मजबूत बनाये रखने में भी मददगार साबित होता है। एक अध्ययन के मुताबिक रोजाना 100 ग्राम आलूबुखारा खाने से हड्डी में मौजूद कमजोरपन से छुटकारा पाया जा सकता है।

मोटापा

यदि आपका वजन बहुत ज्यादा है और आप वजन कम करना चाहते हैं तो अपनी डाइट में आप आलूबुखारा को भी शामिल कर सकते हैं। आलूबुखारा चाहे फल के रूप में, सूखे मेवे के रूप में हर तरह से शरीर को वजन कम करने में आपकी मदद करता है, क्योंकि इसमें अन्य  फलों की अपेक्षा बहुत कम कैलोरी पाई जाती है। वहीं  यह फल फाइबर से भरपूर होने की वजह से वजन कम करने में फायदेमंद माना जाता है। इस फल में फाइबर की मात्रा ज्यादा पाए जाने के कारण इस फल को वजन कम करने में सहायक माना जाता है। इसके अलावा आप आलूबुखारा का जूस भी पी सकते हैं, लेकिन इसका जूस सीमित मात्रा में ही पीना फायदेमंद है ये आपके स्वास्थ्य के लिए भी ठीक होगा। आलूबुखारा खाने से आपकी भूख नियंत्रित रहती है जिससे वजन कम करने सहायता मिलती है।

एंटी ऑक्सीडेंट

आलूबुखारा में विटामिन ‘ए’, विटामिन ‘सी’ भरपूर मात्रा में पाया जाता है। इसलिए हर प्रकार के रोगों के लिए ये एंटी ऑक्सीडेंट की तरह काम करता है। गलत खान-पान से हमारे शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता पर बुरा प्रभाव पड़ता है,ये फल एंटीऑक्सीडेंट की मात्रा को बढ़ा देता है।आलूबुख़ार के सेवन से हमारा शरीर कई प्रकार की बीमारियों से बचा रह जाता है। इसलिए आलूबुखारा का सेवन जरूर करें।

News Reporter

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.