कलौंजी की विशेषता !

दोस्तों, आज के बदलते लाइफस्टाइल ने लोगों को इस  कदर बदल कर रख दिया है की,सुविधाओं के नाम पर हम बचपन मे ही बूढ़े दिखने लगे हैं। चाहे वो महिला हो या पुरुष हर कोई इस समस्या से जूझ रहा है जैसे बचपन से ही आंख खराब होना, यहाँ तक की छोटे बच्चों को भी चश्मा पहनना पड़ता है। बालों का झाड़ना,बालों का सफ़ेद होना,सिरदर्द,जोड़ों का दर्द,पीठ दर्द ,कमर दर्द आदि। मतलब आधुनिक जीवन शैली और आधुनिक प्रोडक्ट  हमारे शरीर को फायदा पहुँचाने के बजाये नुक्सान पहुंचा रही हैं, आज कल बाजारों में मिल रहे गारंटेड प्रोडक्ट के नाम पर हम खुद हो ठगा हुआ महसूस कर रहे हैं । ऐसे में जरुरी है की हम  अपनी सुरक्षा स्वयं करें आज बात करेंगे महिलाओं और पुरुष दोनों की आम समस्या बाल झड़ने के बारे में, की किस तरह कलौंजी के इस्तेमाल से आप अपने बालों को मजबूती प्रदान कर सकते हैं, और गंजे सर में फिर से नए बाल पा सकते हैं। कलौंजी बाजार में आसानी से मिल जायेंगे कलौंजी में मिनरल्स न्यूट्रीएट्स होते हैं।

              इसमेंआयरन,सोडियम,केल्शियम,और पोटेशियम भी होता है, तो आइये कलौंजी का तेल बनाने के बारे में जाने जिससे सिर में फिर से बाल उग आयेंगे। वैसे तो बाजार में भी इसका तेल उपलब्ध है लेकिन पता नहीं वो कितना शुद्ध है। तेल बनाने के लिए सबसे पहले आपको 200 ग्राम पीसी हुई कलौंजी लेना है और कमसे कम 5 लीटर पानी में एक बर्तन में धीमे आंच में गैस में तब तक पकाएं जबतक की पानी आधा  ना  हो जाये, पानी आधा होने पर गैस से उतार दें और पानी ठंडा होने पर पानी के ऊपर तेल तैरने लगेगा, इस तेल को चम्मच से आराम से निकाल लें और शीशी में भर कर रख लें। इनका उपयोग निम्न पर करें :-

 

1.अगर बाल गिरते हों तो :-सर पर 20 मिनट तक निम्बू के रस से मसाज करें और सुख जाने पर बालों को अच्छी तरह धो लें ।इसके बाद कलौंजी का तेल बालों में लगाकर अच्छी तरह सूखने दें ,फिर बाल धों दें लगातार  15 दिनों तक इसका इस्तमाल करने से बालों के गिरने की समस्या दूर हो जाएगी।

2.नये बाल उगाने के लिए :-कलौंजी का तेल,ओलिव आयलऔर मेहँदी पाऊडर को मिलाकर हल्का गर्म करें और ठंडा होने पर इसे हेयर पैक की तरह बालों में लगायें। और सूखने के बाद बालों को अच्छी तरह धो लें, हफ्ते में कम -से-कम एक बार इसका इस्तमाल जरूर करें, बहुत जल्द नये बाल उग आयेंगे।

3.कलौंजी न सिर्फ बालों के लिए राम बाण इलाज है बल्कि इसका उपयोग अन्य समस्या जैसे पिम्पल,यादाश्त बढाने के लिये ,सिरदर्द से छुटकारा पाने के लिए ,अस्थमा,आँखों की रौशनी और ब्लड प्रेशर कण्ट्रोल  करने के लिए भी कर सकते हैं ।

News Reporter

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.