गर्मी के मौसम में हार्ट के मरीज इन बातों का ध्यान रखें वर्ना बहुत पछतायेंगे !

गर्मी के मौसम में चलने वाली तेज धूप और उमस भरी हवाएं, अपने साथ कई सारी बीमारियां भी लेकर आता है। हार्ट अटैक का खतरा ठण्ड के मौसम में ज्यादा होता है, ऐसा माना जाता था। लेकिन ये बीमारी अब गर्मियों के मौसम में भी देखा गया है। इस मौसम में जहाँ स्वस्थ व्यक्ति भी बीमार महसूस करने लगता है, वहीँ ये मौसम दिल के मरीजों के लिए बेहद खतरनाक है। गर्मियों के मौसम में हार्ट के मरीजों को ज्यादा मेहनत वाले काम नहीं करना चाहिए। गर्मी का मौसम हमारे दिल पर बहुत ज्यादा प्रभाव डालता है। इस मौसम में पसीना आना अच्छा है, ये हमारे शरीर के तापमान को कण्ट्रोल करता है और शरीर को ठंडा बनाये रखता है। लेकिन अगर किसी कारणवश  शरीर ठंडा नहीं हो पाता तो, हार्ट को ब्लड के सर्कुलेशन के लिए ज्यादा मेहनत करनी पड़ती है ,जो दिल के मरीजों के लिए सही नहीं है। डॉक्टर्स भी हैरान हैं की पिछले कुछ सालों से गर्मियों में हार्ट पैशन्ट की संख्या में काफी इजाफा हुआ है। हार्ट मरीजों को गर्मियों में अपना खास ख्याल रखना चाहिए।

 

लक्षण

ठण्ड लगना ,चक्कर आना ,उल्टी महसूस होना ,बहुत ज्यादा थकावट लगना ,मांस पेशियों में ऐंठन ,दिल की धड़कन का बढ़ना आदि। ये सामान्य से दिखने वाले लक्षण काफी खतरनाक हो सकते हैं। इन्हें कभी इग्नोर मत कीजिये। उपरोक्त कोई भी लक्षण दिखे तो तुरंत अपने डॉक्टर से मिलें।

 

हार्ट मरीज को गर्मियों में इन बातों का ध्यान रखना चाहिए

 

  • अगर ज्यादा गर्मी के कारण आप बैचेनी या दिक्कत महसूस कर रहे हैं तो२, तुरंत ब्लड प्रेशर चेक कराएं।डॉक्टर से परामर्श कर जरुरत पड़ने पर घर पर ही रहें । ज्यादा धुप में निकलना घातक हो सकता है।
  • गर्मियों में जितना हो सके तरल पदार्थों का सेवन करें। शरीर में पानी की कमी ना होने दें। शरीर में जितना पानी होगा उतना हार्ट अटैक का खतरा कम होगा।
  • इस मौसम में कम वसा,कम चीनी,और कम नमक वाली चीजों का सेवन करें। ये दिल को स्वस्थ रखने के साथ ही, इसकी जरुरत भी हैं । गर्मियों में माँस,मछली,अंडा,चीनी ,मिठाई ,फ़ास्ट फ़ूड आदि  के सेवन से बिलकुल परहेज करें।
  • गर्मी में हार्ट को जो सबसे ज्यादा नुक्सान पहुंचाती है, वो है धूम्रपान। बीड़ी ,सिगरेट ,पान ,गुटखा ,तम्बाकू आदि का सेवन गर्मियों में जितना हो सके कम करें। इससे हार्ट अटैक का ज्यादा खतरा रहता है।
  • गर्मियों में दिल के मरीज जितना हो सके घर में ही रहें । बाहर का गर्म वातावरण उन्हें सिर्फ नुक्सान ही पहुंचा सकता है। रहने का कमरा खुला और ठंडा होना चाहिए, ताकि कमरा ठंडा रहे और गन्दी हवा कमरे से बाहर जा सके।
  • अगर किसी जरुरी काम से घर से बाहर जाना ही पड़े तो अपने साथ पानी की बोतल और छतरी जरूर ले जाएँ। बाहर जाने पहले घर में किसी को जरूर बताकर जाएँ की आप कहाँ जा रहे हैं। अपनी दवा साथ लेना ना भूलें।कोशिश करें की जितना कम हो बाहर के मौसम का सामना करना पड़े।
  • इस मौसम में हार्ट मरीजों को ज्यादा गर्मी लगने पर ठन्डे पानी से नहाना चाहिए । ठण्डी पेय जैसे निम्बू पानी,एनर्जी ड्रिंक,चीनी नमक का पानी पिते रहें ।
  • गर्मी के मौसम में बुजुर्ग और जिन्हें हार्ट सम्बन्धी बिमारी है वो अपना खास ख्याल रखें। खासकर तब जब उन्हें बीपी,मोटापा,शुगर आदि की दिक्कत पहले से है।
News Reporter

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.