गले में है खराश तो अपनाएं ये घरेलु उपाय

ठंडी का मौसम आते ही मौसम बदलने के साथ-साथ बहुत से लोगों को गले का इन्फेक्शन हो जाता है। जिसके कारण लोगों को सर्दी, जुकाम और गले में दर्द जैसी समस्या का सामना करना पड़ता है। कई बार गले की खराश 1-2 दिन में अपने आप ठीक हो जाता है, लेकिन अगर यही ज्यादा दिनों तक रहे तो इंफेक्शन का भी रूप ले सकता है। बच्चे हों या बड़े बदलते मौसम में सर्दी, सिरदर्द और गले का खराब होना आम बात है। ऐसा अक्सर बीमित व्यक्ति  संपर्क में आने या संक्रमण के कारण हो सकता है। जैसे-जैसे समस्या बढ़ती जाती है गले में दर्द भी होने लगता है। आप गले में खराश के कारण घरेलू उपचार का यूज कर सकते हैं। इसके इलाज के लिए साड़ी चीजें आपके किचन में मिल जाएंगी।

इसे भी जानें :-एसिडिटी होने के कारण,लक्षण और घरेलू उपाय

गले में खराश होने का कारण

गले में खराश होने का कारण कई बार ज्यादा बातचीत करने, चिल्लाने और ज्यादा ऊँची आवाज में पढ़ने से भी गले में दर्द हो सकता है। इसके अलावा ज्यादा तली-भुनी हुई चीज खा लेने से भी गले में इन्फेक्शन हो सकता है।अगर किसी संक्रमित व्यक्ति को छू लेने से या उसके पास बैठ जाने या उसके संपर्क में आने से आपको भी बिमारी हो सकती है। ये बिमारी बातचीत करने ,बीमित व्यक्ति यदि आपके सामने छींक दे या खांस दे तो भी इसके वायरल आस-पास बैठे लोगों को बीमार कर देता है। इसका ध्यान रखें।

गले में संक्रमण के लक्षण

इसे भी जाने :-आलूबुखारा -गुणों और सेहत से भरपूर फल

अगर आपका नाक बंद हो गया है। नाक का ज्यादा बहना, खांसी, बुखार, ठंड लगने से भी गले में संक्रमण हो सकते हैं। गले में संक्रमण के  कारण  सिर दर्द, बदन दर्द आदि जैसी समस्या हो सकती है।

इलाज

लहसुन

गले के खराश से छुटकारा पाने के लिए आप लहसुन का भी यूज कर सकते हैं,ये गले की खराश दूर करने का एक कारगर उपाय है। अदरक की चाय बनाकर दिन में दो तीन बार लें। इसमें मौजूद एंटीबैक्टीरियल गुण गले के संक्रमण को दूर करने का काम करते हैं। लहसुन में मुख्य रूप से एलिसिन नामक तत्व पाया जाता है जो गले के खराश में काफी फायदेमंद है। ये गले की समस्या से राहत दिलाने में मददगार है।

इसे भी जानें :-मॉनसून के मौसम में होने खतरनाक वाली बिमारी-मलेरिया

गरारे

गले की खराश दूर करने के लिए गरारे करना एक पुराना तरीका है। इसके लिए 2  गिलास पानी में लें, इसमें थोड़ा सा नमक डालकर हल्का गर्म करें। अब इस पानी को मुँह में रखकर गरारे करें और थोड़ा सा पानी में और उसे 5 मिनट तक करने के बाद कुल्ला कर लें। यही क्रिया कम से कम 5 से 10 मिनट तक दोहराएं। इस बात का ध्यान रखें कि पानी पेट में ना जाए मुँह में ही रहे।अगर पेट में चला जाए तो आपको दिक्कत हो सकती है। ध्यान रखें कि पानी ज्यादा गर्म ना हो,पानी हल्का गुनगुना होना चाहिए। ज्यादा गर्म पानी से आपका मुहं जल सकता है।

हल्दी

इसे भी जानें :-कान दर्द ठीक करें चुटकियों में घरेलू उपायों द्वारा !

गले की खराश दूर करने के लिए हल्दी वाला दूध पियें। हल्दी मिला दूध रात को पीना ज्यादा फायदेमंद रहता है। रात को सोते समय हल्दी मिला दूध पीने से गले की खराश जल्द ठीक हो जाता है। हल्दी में कई एंटीमाइक्रोबॉयल गुण होते हैं, जो गले की खराश को दूर करने में सहायक होते हैं। इसमें एंटीबैक्टीरियल एंटीवायरस होते हैं।

लौंग

गले की खराश दूर करने के लिए आप लौंग वाला चाय भी पी सकते हैं।लौंग में एंटी बैक्टीरियल एंटी फंगल आदि गुण पाए जाते हैं, जो गले और मुंह के विषैले जीवाणुओं को दूर कर गले का इन्फेक्शन को ठीक करने में मददगार हैं। गले में खराश के साथ-साथ गले में सूजन या दर्द है लौंग बड़े  चीज है।

इसे भी जानें :-निसंतान दम्पतियों के लिए माँ बनने का एक अच्छा विकल्प है सरोगेसी मदर

 

News Reporter

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.