ब्रैस्ट फीडिंग कैसे कराएं, इस दौरान किन बातों का ख्याल रखें !

गर्भावस्था का समय किसी भी महिला के लिए एक खूबसूरत एहसास होता है उसकी खुशी में तब ज्यादा बढ़ोतरी हो जाती है जब उसकी गोद में नन्ही किलकारी सुनने को मिलती है। लेकिन इन सबके बीच महिला अपने नवजात के स्तनपान को लेकर दुविधा में रहती है। खासकर वह महिलाएं जो पहली बार मां बनी हैं क्योंकि बच्चे को अपनी मां के दूध से ही अपने आहार संबंधित सभी जरूरतें पूरी करनी पड़ती है। मां का दूध ही नवजात के लिए सबसे उत्तम आहार माना जाता है, इसलिए बच्चे पैदा होने के बाद जितनी जल्दी हो सके उसे मां का दूध दिया जाना चाहिए ताकि बच्चा किसी भी तरह की बिमारियों से लड़ने में सक्षम हो। बच्चे को जन्म के 30 -60 मिनट के अंदर ही माँ का दूध दिया जाना चाहिए। स्तनपान से सिर्फ बच्चे को ही नहीं है फायदा होता बल्कि स्तनपान कराने वाली महिला को भी कई प्रकार के स्तन के रोगों से सुरक्षा मिलती है। जैसे स्तन कैंसर आदि।

इसे भी पढ़ें :-नवजात शिशु रात में क्यों नहीं सोते हैं ? जाने कारण

आजकल बहुत सी महिलाएं जो पहली बार मां बनी हैं, वह इसी कन्फ्यूजन में रहती हैं कि आखिर बच्चे को दूध कैसे पिलाया जाए। लेकिन बहुत सी ऐसी महिलाएं होती हैं जिनका बच्चा होने के स्तन में दूध नहीं आता ,इसका कारण महिलाएं गर्भावस्था के दौरान अपने खान-पान और परहेज का ध्यान नहीं रखती हैं। इसके लिए जरूर है कि आप गर्भावस्था के दौरान अपने खानपान का अच्छे से ख्याल रखें। बहुत सी महिलाओं को को स्तनपान के दौरान दिक्कत का सामना करना पड़ता है।अगर घर में कोई बड़ी महिला है, तो उनसे इस बात की जानकारी (स्तनपान के बारे में) विस्तार से ले सकते हैं या फिर इसके लिए आप अपने महिला डॉक्टर से भी संपर्क कर सकते हैं। इस लेख में हम आपको स्तनपान कैसे कराएं और इस दौरान ध्यान वाली चीजों के बारे में बताएँगे।

इसे भी पढ़ें ;-माँ का दूध एक वरदान है बच्चों के लिए !

स्तनपान ऐसे कराएं 

  • सबसे पहले आप अपनी गोदी में एक तकिया रख लें, जिससे बच्चा आराम से लेट कर दूध पी सके।
  • फिर बच्चे को गोद में लेकर उसके गर्दन को एक बाहन के ऊपर और दूसरा हाथ उसके  कमर से पकड़कर ऊपर उठाएं जिससे कि बच्चे का मुहं  स्तन के पास आ सके।
  • इसके बाद अपने हाथ से स्तन को पकड़कर बच्चे के मुहं में दें जिससे बच्चा आसानी से दूध पी सके।
  • कोशिश करें कि किसी दीवार में का सहारा लेकर बैठ सकती हैं, जिससे कमर सीधी रहे।सोफे में भी बैठ सकते हैं, जिससे आपको भी दिक्कत ना आए और बच्चा भी आसानी से दूध पी सके।
  • स्तनपान के दौरान ज्यादा हिलना-डुलना खतरनाक हो सकता है। इससे बच्चे के नाक या आँख में दूध जा सकता है।

इसे भी पढ़ें :-महिलाएं क्यों देती हैं अपने पार्टनर को धोखा

स्तनपान के दौरान इन बातों का ख्याल रखें

  • बच्चे को स्तनपान से पहले इस बात का ध्यान रखें कि स्तन एकदम साफ सुथरा हो।
  •  उस पर किसी प्रकार का कोई चोट ना लगा हो, ताकि दूध पीने में बच्चे को किसी भी तरीके का परेशानी का सामना ना करना पड़े।
  •  स्तनपान के दौरान सबसे बड़ी जिस बात का ध्यान रखा जाए वो ये की इस दौरान आप आराम से बैठ कर अपना सारा ध्यान बच्चे पर लगाएं न की इधर-उधर।
  •  अगर आपका ध्यान कहीं और होगा तो ये बच्चे के लिए नुकसानदायक हो सकता है। कई बार देखा जाता है कि बहुत सी महिलाएं बच्चे के मुंह में निप्पल देकर टीवी में या मोबाइल में व्यस्त हो जाती हैं।
  •  जिससे कई बार पता नहीं लगता कि बच्चा दूध पीते-पीते सो गया है या पी रहा है।
  • इससे दूध बाहर गिर रहा होता है जो नवजात के नाक,कान या मुहं में जा सकता है जो उसके लिए परेशानी का सबब बन सकता है।

इसे भी पढ़ें :-निसंतान दम्पतियों के लिए माँ बनने का एक अच्छा विकल्प है सरोगेसी मदर

News Reporter

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.