शक !जाने-अनजाने विश्वास की बुनियाद हिल जाती है

जब आपका पार्टनर आप पर बेवजह शक करे या जरूरत से ज्यादा सवाल करे तो, यह इस बात का संकेत है कि वह अनसिक्योर महसूस कर रहा है। ऐसे में अगर आप अपने पार्टनर को भरोसा नहीं दिला पाते तो, हो सकता है कि आपका रिश्ता जल्द ही टूट जाएगा। कई बार बहुत से छोटे बड़े झगड़े के कारण बेवजह शक ही होता है।

कई बार इस कारण बहुत से खुशहाल दांपत्य तबाह हो जाते हैं। लोग नहीं समझते हैं कि उनका दांपत्य जीवन भरोसे की बुनियाद पर टिका होता है। प्रेम आप सी समझ और भरोसा इनके सहारे गृहस्थी की गाड़ी चलती है। पति-पत्नी हर तरह की मुश्किलों और चुनौतियों का सामना हंसते-हंसते करते हैं। मगर जब इस रिश्ते में दरार पैदा हो जाए तो इंसान अंदर तक टूट जाता है और अगर पति पर पत्नी बेवजह शक करे तो पति का जीना मुश्किल हो जाता हो।अगर पति दफ्तर से दे से घर लौटे,पति कोई गिफ्ट दे या रिंग दे तो तो पत्नी को यह डर होता है कि, कहीं उसका पति का बाहर कोई अफेयर तो नहीं चल रहा है जिस कारण वो उनसे इतना पार दिखा रहे हैं ताकि पत्नी उन पर शक ना करे।  इस कारण कई पत्नियां अपने पति पर बेवजह और बेबुनियाद बातों को लेकर अपने मन में गलतफहमी पैदा कर लेते हैं। जो आगे चलकर उनके और उनके दांपत्य जीवन पर बुरा प्रभाव डालता है। यह शक की बीमारी उनकी अच्छी खासी गृहस्थी को तलाक के कगार पर पहुंचा सकती है।

इसे भी पढ़ें :-सास-बहू के रिश्ते को इस तरह बनाएं मजबूत

शक के कारण

 

ज्यादा ख्याल रखना 

पत्नी का अपने पति के लिए पजेसिव होना भी कई बार परेशानी का सबब बन सकता है। अक्सर इंसान जिससे ज्यादा प्यार करता है, उस पर अपना पूरा अधिकार समझता है। पत्नी की यही मानसिकता पति पर ज्यादा दबाव डालता है और आपसी संबंधों में दरार पैदा कर देता है।

 असुरक्षा की भावना

यदि पति काफी हैंडसम और साफ रंग का है जबकि, पत्नी सांवले रंग की है तो पत्नी हीनभावना की शिकार हो जाती है। उसे हमेशा यही डर लगा रहता है कि पति कहीं किसी अन्य औरत के प्रति आकर्षित ना हो जाए। जो कि पत्नी से ज्यादा खूबसूरत और स्मार्ट हो। ऐसी पत्नियां टेंशन में जीती हैं, इसलिए उनके घर का माहौल भी ऐसा ही रहता है। जबकि उनका यह शक और हीन भावना बिल्कुल बेवजह का होता है। इसलिए  शक करने से पहले इसके तह तक जाएं और कोई फैसला करें।

इसे भी पढ़ें :-महिलाएं क्यों देती हैं अपने पार्टनर को धोखा

सुनी सुनाई बातें

कई बार पत्नियां सुनी सुनाई या औरों की बातें सुन कर भी अपने पति पर बेवजह शक करती हैं। जिससे घर का माहौल बेवजह खराब हो सकता है और आपकी बसी बसाई जिंदगी में कड़वाहट घुल जाता है। कई बार लोग बदला लेने या और कोई दुश्मनी निकालने के लिए ऐसी अफवाह फैलाते हैं, ताकि उनके बीच हमेशा लड़ाई का माहौल बना रहे।

 

ऐसे में पति क्या करे

 

पत्नी का विश्वास हासिल करें

पत्नी अगर पति पर शक कर रही है चाहे वो बेवजह हो, ऐसे में पति को चाहिए की वो पत्नी को अहमियत देते हुए जरूरी है कि, पति उसका विश्वास हासिल करने की कोशिश करे। बातचीत में समय-समय पर पत्नी को यह बताना चाहिए की वह पूरी तरह अपनी पत्नी के प्रति वफादार हैं  और बाहर किसी और के पास जाने के बारे में वह सोच भी नहीं सकते।

इसे भी पढ़ें :-पति-पत्नी के बीच झगडे होने के मुख्य कारण !

खाली दिमाग शैतान का घर

 

पत्नी अगर पति पर बेवजह शक करे तो उसे किसी घरेलू काम में उलझा दें। अगर आपकी पत्नी बेकार खाली बैठी है और जॉब करना चाहती है तो तुरंत उसको जॉब के लिए हामी भरें क्योंकि कहते हैं ना खाली दिमाग शैतान का घर होता है।अगर वह खाली बैठ जाएगी तो ऐसी बातें उसके दिमाग में आती ही रहेगी।अच्छी पढ़ी-लिखी है और जॉब करने की इच्छा रखती है तो उसके जॉब में या और किसी हॉबी में उसका साथ दें ताकि वह बिजी रहे और आप पर बेवजह शक ना करें।

तलाक टालें

इसे भी पढ़ें :-बढ़ती उम्र में सेक्स का मजा लें

यह सही है कि बेवजह इल्जाम लगाने से इंसान अंदर ही अंदर टूट जाता है।टूटन और मानसिक टेंशन से इंसान का जीवन जीना मुश्किल हो जाता है,ऐसे में एक ही रास्ता है और वह है तलाक।पर यह मत भूलिए कि आपकी बीवी जो कि खुद मानसिक रूप से बीमार है ऐसे में आप उसे छोड़ कर कैसे जा सकते हैं।कैसे आप इस मुश्किल घड़ी में उसका साथ छोड़ सकते हैं।आपने  एक दूसरे के साथ हमेशा सुख दुख में जीने मरने की कसमें खाई थी।ऐसे हालात में आपको जल्दबाजी से नहीं समझदारी से काम लेना चाहिए। ना कि इस रिश्ते से मुंह मोड़ कर इस रिश्ते को खत्म करने के बारे में सोचना चाहिए।

News Reporter

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.