शादी के बाद वजन बढ़ने लगता है आखिर क्यों

एक लड़की जो शादी से पहले स्लिम ट्रिम बने रहने के लिए एक्सरसाइज,जिम,मोर्निंग वाक और अपनी डाइट का खूब ख्याल रखती है। वही लड़की शादी के बाद गोल मटोल गप्पा सी हो जाती है। अगर महिलाओं से पूछा जाए तो कहती हैं ससुराल का पानी नहीं लगा,ये तो शादी की हल्दी का असर है,ऐसे कई बहाने आपको सुनने को मिल जाएंगे। पति और पत्नी दोनों का ही वजन शादी के बाद बढ़ता है, लेकिन मोटापा पुरुषों की अपेक्षा महिलाओं में ज्यादा बढ़ता है। एक रिपोर्ट के अनुसार 80% लड़कियों का वजन शादी के बाद बढ़ता है ऐसा किसलिए होता है जानते हैं :-

  • डाइट

असंतुलित खानपान वजन बढ़ाने का सबसे प्रमुख कारणों में से एक है। शादी से पहले जहाँ लड़कियां स्लिम दिखने के लिए अपने डाइट का विशेष ख्याल रखती हैं। वहीँ शादी के बाद वे अपने खानपान के प्रति लापरवाह हो जाती हैं। नई-नई शादी वाले कपल्स को कई दिनों तक अलग-अलग घरों में मेहमान बनकर खाना खाना होता है , जहाँ घी तेल वाली चीजें खानी पड़ती हैं।

  • लापरवाह हो जाना

शादी से पहले जहाँ लड़कियों का रूटीन होता है, वहीं शादी के बाद टोकने वाला कोई नहीं होता और एकल परिवार है तो और भी मजे। उसपर अगर पति ज्यादा प्यार करने वाला मिले तो कहना ही क्या?आधे से ज्यादा काम तो वही निबटा देता है, ऐसे में दिनभर घर मे कोई काम नहीं होता।

 

  • ससुराल वालों को खुश रखना

जो लड़कियां शादी से पहले किचन में कभी पैर नहीं रखती थीं, वही शादी के बाद ससुराल में दिल जगह बनाने के लिए रोज-रोज नए-नए पकवान बनाकर खिलाती हैं और बचने के के बाद इतनी मेहनत से बनायी चीज को क्यों फेकना इसलिए ओवर इटिंग कर लेती हैं। जो वजन बढ़ाने में मदद करती हैं ।

 

  •  नींद की कमी 

शादी के बाद प्राथमिकताएं बदल जाती हैं। सुबह जल्दी उठकर पति और बच्चों को स्कूल भेजना दिनभर घर के काम और सास-ससुर की देखभाल और फिर शाम को सब के सोने के बाद घर के सारे काम निबटाकर सोने तक, काफी समय बीत चूका होता है। नींद की कमी भी मोटापा बढ़ाता है।

 

  • एक दुसरे के ज्यादा ख्याल रखना 

विवाह के बाद अक्सर कपल्स एक दुसरे का हद से ज्यादा केयर करने लगते हैं। समय-समय पर केक,चॉकलेट,पिज़्ज़ा आदि  खिलाते रहते हैं। कैलरीज से भरपूर ये चीजें वजन बढ़ाने में हेल्प करती हैंं और वीकेंड पर एक बार बाहर का खाना जरुर खाना। जो घी से भरपूर होती हैं,वजन बढ़ाती हैं।

 

  • सेक्स

खुश रहने का सबसे बड़ा कारण सेक्स होता है। जो आपसे बेहद प्यार करता है उससे साथ शारीरिक सम्बन्ध बनाना तन और मन को आनंद देता है और जिंदगी में खुशियाँ भर देता है। जिन्दगी में स्थायी और सुरक्षापन भी आता है, जिससे व्यक्ति ज्यादा खाना खा लेता है और वजन बढ़ने लगता है।

  • प्रेगनेंसी

प्रेगनेंसी में विवाहिता के खान-पान का घरवाले खूब ख्याल रखते हैं। जो एक तरह से जरुरी(होने वाले बच्चे के लिए)भी है। उसे बस 9 महीने तक आराम करना होता है। माँ बनने के बाद भी ये वजन जल्दी नहीं जा पाता, वैसे भी प्रेगनेंसी के बाद वजन बढ़ता ही है।

 

  • तनाव

शादी के बाद जिन्दगी में कई बदलाव आते हैं। अगर आप वर्किंग वुमन हैं तो घर का टेंशन, ऑफिस का टेंशन। सब एक साथ देखना पड़ता है। कई बार जिन्दगी ज्यादा तनाव से भर जाते हैं और टेंशन में हैवी इटिंग कर लेते हैं।

  • हेल्थ के प्रति लापरवाह

शादी से पहले जहाँ लड़कियां स्लिम और स्मार्ट दिखने की हर कोशिश करती थीं, वहीँ शादी के बाद ये सोच हो जाती है की अब किसे दिखाना है, जो होना था वो तो हो गया। जीवनसाथी पाने का दबाव भी कम हो जाता है। इसलिए वे अपने खानपान का कोई ख्याल नहीं रखती और मोटी होती जाती हैं।

 

  • टीवी देखना

शादीशुदा अपने पार्टनर के साथ ज्यादा से ज्यादा समय बिताते हैं। टीवी देखते हुए चिप्स और स्नेक्स खाना ज्यादातर लोग पसंद करते हैं जब पार्टनर साथ हो तो पता नहीं कितनी चीजें खा लेते हैं। जो वजन बढाने में मददगार साबित होता है।

 

News Reporter

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.